Sbi क्रेडिट कार्ड के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए

अगर आप भी क्रेडिट कार्ड बनवाने की सोंच रहें तो आपकी मासिक सैलरी से जुड़ी बात बैंक द्वारा पूँछी जानी तय है। निश्चित तौर पर क्रेडिट कार्ड के आवेदन में लाभार्थी की मासिक आय व क्रेडिट स्कोर की डिटेल मैटर करती है। ऐसे मे आपको यह जानना बेहद जरुरी हो जाता है कि आपको इसके लिए क्या सैलरी और क्रेडिट कार्ड लेने के लिए कितनी कमाई होनी जरुरी है। इस आर्टिकल में हमने Sbi क्रेडिट कार्ड के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए, इसके बारे में बात की है –

Sbi क्रेडिट कार्ड के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए

SBI Credit Card लेने के लिए आवेदक के पास खुद का व्यवसाय या नौकरी होनी चाहिए। वहीं बात करें क्रेडिट कार्ड लेने के लिए आवश्यक मासिक कमाई की तो वो कम से कम 15 हजार रूपये या उससे अधिक होना चाहिए। इसके अलावा अगर आवेदक की सरकारी नौकरी है तो उन्हें क्रेडिट कार्ड बनवाना और भी आसान हो जाता है।

आपको बतादें कि बैंक, क्रेडिट कार्ड एप्लीकेशन के समय सैलरी स्लिप व अन्य जरुरी दस्तावेजों की मांग करता है। जिनकी डिटेल नीचे बताई गयी है। अगर कोई व्यक्ति नौकरी पेशा है या कोई खुद का बिजनेस करता है, तो उसकी महीने की कमाई अगर क्रेडिट कार्ड की शर्तों से मेल खाती है तो ही ग्राहक क्रेडिट कार्ड बनवा सकते हैं।

इसे पढ़ें – जीरो डाउन पेमेंट बाइक लोन लेने का तरीका

SBI क्रेडिट कार्ड लेने के लिए पात्रता –

अगर आप किसी भी बैंक से क्रेडिट कार्ड लेने की सोच रहे है तो ऐसे मे आपको इन सभी योग्यताओं और पात्रताओं को पूरा करना जरुरी है तभी आप क्रेडिट कार्ड ले सकते है।

  • उम्र – क्रेडिट कार्ड लेने वाले आवेदक की उम्र 21 साल से 60 साल के बीच मे होनी चाहिए।
  • रोजगार – नौकरी पेशा व्यक्ति को क्रेडिट कार्ड मिल सकता है या खुद के बिज़नस करने वालों को भी क्रेडिट कार्ड दिया जाता है।
  • मासिक आय – 15 हजार महिना कम से कम ( यह सभी बैंक के लिए अलग हो सकती है )
  • निवासी – आवेदक भारत का मूल निवासी होना जरुरी है।
  • क्रेडिट स्कोर – यह लिमिट आपको एक लोन के समान दी जाती है, इसलिए इसमे एक अच्छे क्रेडिट स्कोर का होना जरुरी है।

आवेदन के लिए जरुरी दस्तावेज –

  • क्रेडिट कार्ड का फॉर्म : क्रेडिट कार्ड लेने के लिए आवेदक के पास बैंक का क्रेडिट कार्ड फॉर्म होना चाहिए और उस फॉर्म को सही से भरना भी जरुरी होता है।
  • पहचान पत्र – आवेदक का पहचान पत्र जैसे ड्राइविंग लाइसेंस और वोटर आईडी कार्ड भी इस फॉर्म के साथ लगा होता है।
  • आधार कार्ड – इसके अलावा आवेदक का आधार कार्ड भी इस फॉर्म के साथ लगाना होता है।
  • स्थाई पते का प्रमाण – आवेदक को अपने मूल निवास स्थान का प्रमाण भी अपने फॉर्म के साथ लगाना होता है। इसमे आप या तो मूल निवास प्रमाण पत्र लगा सकते है कुछ और दस्तावेज।
  • पेन कार्ड – पेन कार्ड आवेदक के नाम का खुद का होना जरुरी है। इसके माध्यम से आवेदक की आय का पता लगाने मे मददगार होता है।
  • सैलरी स्लीप – अगर कोई आवेदक नौकरी पेशा है तो उसे अपने आवेदन पत्र के साथ सैलरी स्लीप लगानी भी जरुरी होती है। इसके अलावा आवेदन फॉर्म नंबर 16 भी दे सकते है।
  • बैंक स्टेटमेंट – अगर कोई आवेदक के पास खुद का बिज़नस है तो ऐसी स्तिथि मे उसको अपने बैंक के पिछले 3 माह का स्टेटमेंट देना होता है।

इसे पढ़ें – SBI Monthly Income Scheme

SBI Credit Card पर लगने वाले सुविधा शुल्क –

अगर किसी आवेदक की महीने की कमाई कम से कम 15 हजार है तो उसके बाद आप क्रेडिट कार्ड ले सकते हैं। जितनी क्रेडिट लिमिट का इस्तेमाल आप करते हैं उसको वापस चुकाने के लिए आपको 40 दिन का समय दिया जाता है। इस समय मे अगर आप लोन का भुगतान करने मे असमर्थ रहते हैं तो ऐसे मे आपको एक्स्ट्रा चार्ज देना पड़ सकता है। विभिन्न सुविधाओं के केश में लगने वाले चार्ज की डिटेल नीचे पढ़ें –

ATM से निकासी पर लगने वाला शुल्क –

अगर कोई ग्राहक क्रेडिट कार्ड का बैलेंस एटीएम के जरिये बाहर निकालता है तो उस निकाली हुई राशि पर ग्राहकों को कम से कम 2।5% तक का शुल्क देना होता है।

ओवर लिमिट फीस –

अगर आप बैंक द्वारा दी गई लिमिट से ज्यादा खर्च करते है तो यह बैंक बिलकुल भी पसंद नही है। ऐसा करने पर भी बैंक आपसे कुछ अतिरिक्त चार्ज ले सकती है। इसके लिए बैंक आपसे कम से कम 500 रूपये तक चार्ज कर सकती है।

इसे पढ़ें – बिना इनकम प्रूफ के इंस्टेंट लोन देने वाले सुरक्षित मोबाइल एप्स

लेट पेमेंट फीस –

अगर आपने क्रेडिट कार्ड का समय पर भुगतान नहीं करते है और इसमे देरी करते है तो इस पर बैंक आपसे कुछ शुल्क लेट पेमेंट फीस के तौर पर चार्ज करती है। इसमे आपसे 700 रूपये तक चार्ज कर सकती है हालंकि यह आपकी खर्च की गई राशि पर निर्भर करता है।

सालाना शुल्क –

कई लोगो को शायद इस बाट का अंदाजा भी नही होता है की बैंक आपको क्रेडिट कार्ड तो देती है परन्तु उस पर सालाना शुल्क भी वसूलती है जो आपको पुरे साल मे खर्च की गई लिमिट के आधार पर होती है। इस पर लगने वाली सालाना ब्याज की दर 36 से 42 प्रतिशत के बीच हो सकती है।

GST –

क्रेडिट कार्ड की लिमिट पर सालाना कुछ GST भी देनी होती है। यह GST यूजर को अपने सालाना पर खर्च की गई राशि के आधार पर देनी होती है। इसमे यूजर मान लीजिये की एक साल मे 1 लाख रूपये खर्च करता है तो उस पर 18 प्रतिशत तक की GST देनी होती है जो की तक़रीबन 18 हजार के आसपास होती है।

इसे पढ़ें – आधार कार्ड पर 50000 का लोन कैसे मिलता है?

1 thought on “Sbi क्रेडिट कार्ड के लिए कितनी सैलरी होनी चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *