पशु किसान क्रेडिट कार्ड हरियाणा: पशुपालन हेतु सस्ते ब्याज दरों पर लोन

हरियाणा में पशुपालक व्यवसाय से जुड़े किसानों के लिए राज्य सरकार, पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना चला रही है। जिसके तहत किसानों को गाय, भैस, भेंड़, बकरी, मुर्गी या सूअर जैसे मवेशियों को खरीदने के लिए सब्सिडी के साथ बेहद कम ब्याज पर लोन मिलता है। यहाँ हमने पशु किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने से लेकर लोन लेने तक के प्रोसेस को समझाया है –

हरियाणा पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना के नियम –

  • पशु किसान क्रेडिट कार्ड से अधिकतम 3 लाख रुपये तक लोन मिल सकता है,
  • इसमें बिना कुछ गिरवी (गारंटी) दिए 1 लाख 60 हजार रुपये तक लोन मिल सकता है,
  • पशु क्रेडिट कार्ड लोन पर 7 प्रतिशत सालाना ब्याज दर होती है,
  • यदि आवेदक ने सिर्फ 1 लाख 60 हजार रुपये तक लोन लिया है और 1 साल के भीतर चुका देता है तो उसे 3 प्रतिशत अनुदान मिलता है,
  • इससे अधिक लोन पर 7 प्रतिशत ब्याज दर पर लोन चुकाना होता है,
  • हरियाणा में यह क्रेडिट कार्ड सरकारी स्कीम के अंतर्गत बैंक द्वारा जारी किया जाता है,
  • स्कीम के अंतर्गत पशुओं का बीमा करवाना अनिवार्य है,
  •  योजना के आवेदन, नजदीकी बैंक या CSC सेण्टर पर जाकर भरे जा सकते हैं।

नोट – आपको बता दें कि यदि कोई किसान पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत 1.60 लाख रुपये तक का ऋण लेना चाहता है, तो उसे पशुपालन और डेयरी विभाग के उप निदेशक को एक शपथ पत्र जमा करना होगा। क्योंकि इतने अमाउंट पर कोई गारंटी नहीं देनी होती।

Also Read: HDFC पशुपालन लोन, कम ब्याज दर पर डेरी फॉर्म लोन स्कीम

कौन से पशु पर कितना मिलेगा लोन, यहाँ देखें –

पशुओं की संख्या के आधार पर आप प्रति पशु खरीद पर आप इतने अमाउंट तक लोन पा सकते हैं

  1. गाय खरीदने के लिए 40 हजार 783 रुपये,
  2. भैस खरीदेने के लिए 60 हजार 249 रुपये,
  3. भेंड़ व बकरी के लिए 4 हजार 63 रुपये,
  4. सूअर के लिए 16 हजार 337 रुपये,
  5. मुर्गी के लिए 720 रुपये,

Image

पशु क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए किस प्रकार के किसान पात्र हैं –

हरियाणा सरकार की इस योजना में ऐसे किसान पात्र हैं जिनके पास या तो जमीन बहुत कम है या है ही नहीं। बड़े किसान योजना में आवेदन नहीं कर सकते। दूसरी चीज, ऐसे किसान जो पशुपालन व्यवसाय पर ही आर्थिक रूप से निर्भर हैं उन्हें प्राथमिकता दी जाती है। योजना में आर्थिक रूप से कमजोर व सामाजिक रूप से पिछड़े वर्ग के किसानों को भी पात्र माना जाता है।

Also Read: SBI पशुपालन लोन

हरियाणा पशु किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने का तरीका –

ऐसे किसान भाई जो राज्य सरकार की इस स्कीम का फायदा लेना चाहते हैं वे ऑनलाइन या ऑफलाइन तरीके से आवेदन फॉर्म भर सकते हैं।

ऑनलाइन माध्यम से आवेदन करने के लिए सबसे बढिया ये है कि आप अपने पास के किसी जन सुविधा केंद्र पर जाइए और वहां पशु किसान क्रेडिट कार्ड का आवेदन फॉर्म भरवाईये।

ऑफलाइन तरीके में आपको सीधे बैंक से संपर्क करना होगा, वहां आपको एक फॉर्म मिलेगा जिसे भरकर जरुरी दस्तावेजों के साथ जमा करना होगा।

आवेदन की जाँच होने के बाद पात्र किसान को पोस्ट ऑफिस या बैंक से क्रेडिट कार्ड मिल जाएगा, जिसकी मदद से वह कभी भी 3 लाख तक लोन अपने बैंक खाते में ले सकता है।

आवेदन फॉर्म के साथ इन दस्तावेजों लगाना पड़ सकता है –

  • आधार कार्ड की प्रिंट
  • फोटो (पासपोर्ट साइज़)
  • पैन कार्ड की कॉपी
  • पहचान पत्र
  • जमीन के कागज
  • पशुओं के बीमा की रसीद
  • बैंक अकाउंट
  • मोबाइल नंबर
  • निवास व आय प्रमाण पत्र
  • सपथ पत्र

कितने समय में लोन का पैसा वापस कर सकते हैं –

आवेदन के समय, किसान को यह बताना होता है कि वह कितने समय में पैसे वापस कर देगा, वैसे सरकारी सूचना के अनुसार किसानों को लोन वापसी के लिए 1 साल से 5 साल तक का समय मिल सकता है। लोन के पैसे किसान भाई किस्तों में भी चुका सकते हैं, इसकी डिटेल आप बैंक से ले सकते हैं।

For More Details – Go to Official website haryana Govt.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *